स्ट्रॉबेरी समेत कई फलों की खेती के लिए किसानों को मिलेगा 90% तक का अनुदान, जानें कैसे उठाएं इस योजना का लाभ


देश में किसानों की आमदनी को बढ़ाने के लिए सरकार कई तरह की योजनओं को संचालित करती रहती है, ताकि किसानों आर्थिक स्तिथि को सुधारा जा सके. इन्हीं योजनाओं में से राष्ट्रीय बागवानी मिशन तथा मुख्यमंत्री बागवानी मिशन योजना एक है, जो किसानों के लिए वरदान साबित हो रही है.

 

बता दें कि राष्ट्रीय बागवानी योजना (National Horticulture Scheme) और मुख्यमंत्री बागवानी योजना (Chief Minister Horticulture Scheme ) के तहत बागवानी को बढ़ावा दिया जा रहा है. इन योजनाओं के तहत सरकार स्ट्रॉबेरी उत्पादकों और अन्य फलों की खेती के लिए किसानों को 90 प्रतिशत तक का अनुदान प्रदान कर रही है.

 

जिला उद्यान द्वारा बताया जा रहा है कि सरकार किसानों को पारंपरिक खेती के साथ-साथ बागवानी को अपनाने के लिए प्रोत्साहित कर रही है. इसके चलते किसानों को औषधीय व अन्य फसलों की खेती के लिए अनुदान प्रदान कर रही है. तो आइये जानते है कि सरकार किन फसलों पर कितना प्रतिशत अनुदान दे रही है. 

 

इन फसलों की खेती पर मिल रहा अनुदान (Grant is being Received 0n the Cultivation of These Crops)

  • स्ट्रॉबेरी, ड्रैगन फ्रूट, मसाले व सुगंधित पौधे की खेती करने पर 50 प्रतिशत अनुदान का प्रावधान है.

  • गेंदे के फूल की खेती (Marigold Flower Cultivation) करने पर 70 प्रतिशत तक अनुदान दिया जाएगा.

  • पपीता की खेती (Papaya Cultivation) करने पर कुल लागत का 75 प्रतिशत अनुदान देने का प्रावधान है.

  • सब्जी व फल सुरक्षित रखने के लिए प्लास्टिक करैट,लेनी वैग व मशरूम किट लेने पर 90 प्रतिशत का अनुदान दिया जा रहा है.

आपको बता दें कि जो किसान भाई इन योजनाओं के तहत अनुदान का लाभ उठाना चाहते हैं, वे इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. इसके आवेदन की प्रक्रिया 23 नवम्बर से शुरू हो चुकी है.  

 

 

SOURCE: KRISHIJAGRAN

https://hindi.krishijagran.com/news/national-horticulture-mission-scheme-is-proving-to-be-a-boon-for-horticulture-know-how-much-grant-will-be-given/